दर्द-ऐ-इश्क़ Dard-E-Ishq Lyrics - Javed Ali

दर्द-ऐ-इश्क़ | DARD-E-ISHQ LYRICS IN HINDI: The song is sung by Javed Ali under Zee Music Company label. DARD-E-ISHQ song was composed by Kashi Kashyap, with lyrics written by Mukesh Mishra. The music video of this Love song stars Paras Arora and Neelam Chauhan.

Dard-E-Ishq Lyrics

Puchate ho tum kitana chahate tumhein
Yeh na bata payenge tumhein
Puchke to dekh tere dil se yahin
Meri mohabbat koi hisaab nahin

bharatlyrics.com

Mere dard e ishq ka
Bass tu hakim hain
Mere dard e ishq ka
Koi ilza nahin

Mere dard e ishq ka
Bass tu hakim hain
Mere dard e ishq ka
Koi ilza nahin

Teri lat jo lagi chutati hi nahi
Tujo nahin to mera kuch bhi nahi
Tujhse gujarish hain yeh banke meri wafa
Mere aasaman ki bane tu zameen

Puchke to dekh tere dil se yahin
Meri mohabbat ka koi hisaab nahin

Mere dard e ishq ka
Bass tu hakim hain
Mere dard e ishq ka
Koi ilza nahin

Mere dard e ishq ka
Bass tu hakim hain
Mere dard e ishq ka
Koi ilza nahin

Agar sau dil mere hote saare hi tere hote
Befikari mein rahata main hoke tera
Durr durr rahke bhi tu pass pass rahti hain
Rahna na paunga tujhe main hoke juda

Puchke to dekh tere dil se yahin
Meri mohabbat ka koi hisaab nahin

Mere dard e ishq ka
Bass tu hakim hain
Mere dard e ishq ka
Koi ilza nahin

Mere dard e ishq ka
Bass tu hakim hain
Mere dard e ishq ka
Koi ilza nahin

दर्द-ऐ-इश्क़ Lyrics in Hindi

पूछते हो तुम कितना चाहते तुम्हें
ये ना बता पाएंगे तुम्हें
पूछके तो देख तेरे दिल से यहीं
मेरी मोहब्बत कोई हिसाब नहीं

मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
बस तू हक़ीम हैं
मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
कोई इलाज़ नहीं

मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
बस तू हक़ीम हैं
मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
कोई इलाज़ नहीं

तेरी लत जो लगी छूटती ही नहीं
तुजो नहीं तो मेरा कुछ भी नहीं
तुझसे गुजारिश हैं ये बनके मेरी वफ़ा
मेरे आसमां की बने तू ज़मीन

पूछके तो देख तेरे दिल से यहीं
मेरी मोहब्बत का कोई हिसाब नहीं

मेरे दर्दऐ इश्क़ का
बस तू हक़ीम हैं
मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
कोई इलाज़ नहीं

मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
बस तू हक़ीम हैं
मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
कोई इलाज़ नहीं

भारतलिरिक्स.कॉम

अगर सौ दिल मेरे होते सारे ही तेरे होते
बेफ़िक्र में रहता में होके तेरा
दूर दूर रहके भी तू मेरे पास पास रहती हैं
रह ना पाउँगा में तुझसे होक जुदा

पूछके तो देख तेरे दिल से यहीं
मेरी मोहब्बत का कोई हिसाब नहीं

मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
बस तू हक़ीम हैं
मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
कोई इलाज़ नहीं

मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
बस तू हक़ीम हैं
मेरे दर्द ऐ इश्क़ का
कोई इलाज़ नहीं

Dard-E-Ishq Lyrics PDF Download
Print Print PDF     Pdf PDF Download

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *