Era Lyrics - King

Era Lyrics - King

ERA LYRICS IN HINDI: Era (एरा) is a Pop song, recorded by King from album The Gorilla Bounce. The music of "Era" song is composed by Section8, while the lyrics are penned by King. The music video of the song features Megha Sharma.

Era Song Lyrics

Maine logon ke bhi bich khadi dekhi tanhaai
Jitni kamayi utni hi waah waahi
Mere paas koyi degree ni dil jeetne ki
Dil se hi gaayi aur kardi chadhai

Main kalla bhuka baitha reha kayi dina tak
Vairi khush hoye soche chal gaya luck
Maine jaan ke ye saare munh marne ko chhode
Kyuki kutton ke hisse ka sher khata nahi haq

Group banake saade karde burayi
Kade gang asli na aake chak le
Do char dina di eh temporary hype
Ehnu kaka saambh ke tu rakh le

Daur aaya mera kayi bande phook gaye
Kabhi phir mere saamne ni takre
Wo kya hi sach se nibhane yaarian
Ho jinhe khud ke imaan se hi khatre

Daur aaya mera kayi bande phook gaye
Kabhi phir mere saamne ni takre
Wo kya hi sach se nibhane yaarian
Ho jinhe khud ke imaan se hi khatre

bharatlyrics.com

Pyar jua hai poori na-insaafi
Chhin liya neki jisne baant diya paapi

Main baant aya sab phir kya hi chalaki
Zindagi jo meri kabhi kisi ne ni jhaanki
Door se hi khade mujhe dekh rahe
Ye chhu nahi sakenge itni dooriyan bana di

Main kalla dukhi baitha reha kayi dina tak
Vairi khush hoye soche raja gaya thak
Maine jaanke ye saare mauka marne ko chhode
Taaki pata chale thali mein tha chhed kahan tak

Waqt banata koyi banda ni bad
Eddan quote taan duniya hi boldi
Mind na kari mere hatha ch mashook kaka
Chhatiyan puchh ke ni kholdi

Daur aaya mera kayi bande phook gaye
Kabhi phir mere saamne ni takre
Wo kya hi sach se nibhane yaarian
Ho jinhe khud ke imaan se hi khatre

Daur aaya mera kayi bande phook gaye
Kabhi phir mere saamne ni takre
Wo kya hi sach se nibhane yaarian
Ho jinhe khud ke imaan se hi khatre

Pyar tu maange de wafa jaaneman
Mera dhyan baaton mein na rakha jaaneman
Husn ki galiyon mein phirta main roz
Mujhe teri bhi saheliyon ne takha jaaneman

Ilzaam mera main na tera hua
Yeh bhi ghao mera tune chheda hua
Rishton se zyada sacha paisa mujhe lagta hai
Tera hua na kabhi mera hua

Khel ye mere saamne kaise kar jaati ho
Ek dil ko sab mein baant ke kaise reh paati ho

Ho tere yaar bathere meri bas ek maayi
Jeb dekh ke pyar ni karti
Naam aur shauhrat aur moti hai kamayi
Teeno raja ki baahon mein marti

Daur aaya mera kayi bande phook gaye
Kabhi phir mere saamne ni takre
Wo kya hi sach se nibhane yaarian
Ho jinhe khud ke imaan se hi khatre

Daur aaya mera kayi bande phook gaye
Kabhi phir mere saamne ni takre
Wo kya hi sach se nibhane yaarian
Ho jinhe khud ke imaan se hi khatre.

एरा Lyrics in Hindi

मैंने लोगों के भी बिच खड़ी देखी तन्हाई
जितनी कमाई उतनी ही वाह वाही
मेरे पास कोई डिग्री नी दिल जीतने की
दिल से ही गायी और करदी चढ़ाई

मैं कल्ला भूखा बैठा रेहा कई दिना तक
वैरी खुश होये सोचे चल गया लक
मैंने जान के ये सारे मुंह मारने को छोड़े
क्युकी कुत्तों के हिस्से का शेर खाता नहीं हक़

ग्रुप बनाके साड्डे करदे बुराई
कदे गैंग असली ना आके चक ले
दो चार दिना दी यह टेम्पररी हाइप
एहनु काका सांभ के तू रख ले

दौर आया मेरा कई बंदे फूक गये
कभी फिर मेरे सामने नी टकरे
वो क्या ही सच से निभाने यारियां
हो जिन्हे खुद के ईमान से ही खतरे

दौर आया मेरा कई बंदे फूक गये
कभी फिर मेरे सामने नी टकरे
वो क्या ही सच से निभाने यारियां
हो जिन्हे खुद के ईमान से ही खतरे

प्यार जुआ है पूरी ना-इंसाफ़ी
छीन लिया नेकी जिसने बाँट दिया पापी

मैं बाँट आया सब फिर क्या ही चालाकी
ज़िंदगी जो मेरी कभी किसी ने नी झांकी
दूर से ही खड़े मुझे देख रहे
ये छू नहीं सकेंगे इतनी दूरियां बना दी

मैं कल्ला दुखी बैठा रेहा कई दिना तक
वैरी खुश होये सोचे राजा गया थक
मैंने जानके ये सारे मौका मारने को छोड़े
ताकि पता चले थाली में था छेद कहाँ तक

वक़्त बनाता कोई बनदा नी बेड
एदां क्वोट तां दुनिया ही बोल्दी
माइंड ना करी मेरे हाथा च मशूक काका
छातियां पूछ के नी खोलदी

दौर आया मेरा कई बंदे फूक गये
कभी फिर मेरे सामने नी टकरे
वो क्या ही सच से निभाने यारियां
हो जिन्हे खुद के ईमान से ही खतरे

दौर आया मेरा कई बंदे फूक गये
कभी फिर मेरे सामने नी टकरे
वो क्या ही सच से निभाने यारियां
हो जिन्हे खुद के ईमान से ही खतरे

प्यार तू मांगे दे वफ़ा जानेमन
मेरा ध्यान बातों में ना रखा जानेमन
हुस्न की गलियों में फिरता मैं रोज़
मुझे तेरी भी सहेलियों ने तखा जानेमन

इलज़ाम मेरा मैं ना तेरा हुआ
ये भी घाव मेरा तूने छेड़ा हुआ
रिश्तों से ज़्यादा सच्चा पैसा मुझे लगता है
तेरा हुआ ना कभी मेरा हुआ

खेल ये मेरे सामने कैसे कर जाती हो
एक दिल को सब में बाँट के कैसे रह पाती हो

हो तेरे यार बथेरे मेरी बस एक माई
जेब देख के प्यार नी करती
नाम और शौहरत और मोटी है कमाई
तीनो राजा की बाहों में मरती

दौर आया मेरा कई बंदे फूक गये
कभी फिर मेरे सामने नी टकरे
वो क्या ही सच से निभाने यारियां
हो जिन्हे खुद के ईमान से ही खतरे

भारतलिरिक्स.कॉम

दौर आया मेरा कई बंदे फूक गये
कभी फिर मेरे सामने नी टकरे
वो क्या ही सच से निभाने यारियां
हो जिन्हे खुद के ईमान से ही खतरे.

Era Lyrics PDF Download
Print PDF      PDF Download

Leave a Reply