Fitoor Lyrics - Arijit Singh, Neeti Mohan

Fitoor Lyrics - Arijit Singh, Neeti Mohan

LYRICS OF FITOOR IN HINDI: 'फितूर' The song is sung by Arijit Singh and Neeti Mohan from Hindi film Shamshera, directed by Karan Malhotra. The film stars Ranbir Kapoor, Sanjay Dutt and Vaani Kapoor in lead role. "FITOOR" is a Romantic song, composed by Mithoon, with lyrics written by Karan Malhotra.

Teri aawargi bann jaun main
Tujhe dil ki juban samjhaun main
Tu chhau hain so jaun main
Tu dhundh hain kho jaun main
Tu woh nasha jo sir chadhe to
Aasmano mein udd jaun main

Tera yeh ishq mera fitoor
Tu joh bhi kahe ban jaun main
Chhaya hain yoon tera suroor
Jis rang kahe rang jaun main

Tere nashe me hoon main choor
Jis jog kahe rang jaun main
Tera yeh ishq mera fitoor
Tu joh bhi kahe ban jaun main

Yeh ishq ki baarish huyi
Mujhko teri khwahish huyi
Lagta hain aaj ki bepanah
Mohhabbat ki ik numaish huyi

Yeh ishq ki baarish huyi
Mujhko teri khwahish huyi
Lagta hain aaj ke bepanah
Mohhabbat ki ik numaish huyi

Bewajah baaton mein kho na jaaye
Iss pal ka jaadu sun lo mere huzoor
Aalsi raatein yoon beet jaaye
Phir chali jaun toh na mera kusoor

Tu ruk zara farmaun main
Theher toh ja dohraaun main
Mera wajood hain tuhi
Tujhi mein khud ko
Dhundh laaun main

Tera yeh ishq mera fitoor
Tu joh bhi kahe ban jaun main
Chhaya hain yoon tera suroor
Jis rang kahe rang jaun main

Tera yeh ishq mera fitoor
Tu joh bhi kahe ban jaun main.

फितूर Lyrics in Hindi

तेरी आवारगी बन जाऊं मैं
तुझे दिल की जुबान समझाऊं मैं
तू छाओं हैं सो जाऊं मैं
तू धुंध हैं खो जाऊं मैं
तू वो नशा जो सर चढ़े तो
आसमानो में उड़ जाऊं मैं

तेरा ये इश्क़ मेरा फितूर
तू जो भी कहे बन जाऊं मैं
छाया हैं यूं तेरा सुरूर
जिस रंग कहे रंग जाऊं मैं

तेरे नशे में हूँ मैं चूर
जिस जोग कहे रंग जाऊं मैं
तेरा ये इश्क़ मेरा फितूर
तू जो भी कहे बन जाऊं मैं

ये इश्क़ की बारिश हुयी
मुझको तेरी ख्वाहिश हुयी
लगता हैं आज की बेपनाह
मोहब्बत की इक नुमाइश हुयी

ये इश्क़ की बारिश हुयी
मुझको तेरी ख्वाहिश हुयी
लगता हैं आज के बेपनाह
मोहब्बत की इक नुमाइश हुयी

बेवजह बातों में खो ना जाये
इस पल का जादू सुन लो मेरे हुज़ूर
आलसी रातें यूं बीत जाये
फिर चली जाऊं तो ना मेरा कुसूर

तू रुक ज़रा फरमाऊ मैं
ठहर तो जा दोहराऊं मैं
मेरा वजूद हैं तुहि
तुझी में खुद को
ढूंढ लाऊँ मैं

तेरा ये इश्क़ मेरा फितूर
तू जो भी कहे बन जाऊं मैं
छाया हैं यूं तेरा सुरूर
जिस रंग कहे रंग जाऊं मैं

bharatlyrics.com

तेरा ये इश्क़ मेरा फितूर
तू जो भी कहे बन जाऊं मैं.

Fitoor Lyrics PDF Download
Print PDF      PDF Download

Leave a Reply