जय जगन्नाथ Jai Jagannath Lyrics - Jubin Nautiyal

जय जगन्नाथ, JAI JAGANNATH HINDI LYRICS is recorded by Jubin Nautiyal from Jubin Nautiyal label. The music of "JAI JAGANNATH" song is composed by Prem Anand, while the lyrics are penned by Kaushal Kishore.

जय जगन्नाथ Jai Jagannath Lyrics in Hindi

शुभ शुभ दिन आया शुभ घड़ी
शुभ शुभ दिन आया शुभ घड़ी
जय जगन्नाथ से गूंजा आसमा

उसे चारो धाम का पुण्य मिला
उसे चारो धाम का पुण्य मिला
जो कर ले पूर्ण तेरी परिक्रमा

मन में मृदंग बजे
वैकुंठ में शंख बजे
मंदिर है झूम रहा
अंबर से खुशियाँ बरसी

मिला तभी पुण्य हुए सभी धन्य
आकर तेरी शरणो में

जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में

परिक्रमा पथ पर जो भी चला
द्वार खुला हर द्वार खुला
जगन्नाथ जी की जिसपे कृपा
काल भी क्या कर लेगा भला

परिक्रमा पथ पर जो भी चला
द्वार खुला हर द्वार खुला
जगन्नाथ जी की जिसपे कृपा
काल भी क्या कर लेगा भला

बांसुरी भी संग बजे
बैकुंठ में शंख बजे
मंदिर है झूम रहा
अंबर से खुशियाँ बरसी

ना आदि अंत जीवन अनंत पाए
सब शरणो में

जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में

हे नाथ मेरे जगत के स्वामी
आए हैं तेरे द्वारे
भाग्य उदय हो जुग में जय हो
नाम जो तेरा पुकारे

खुदको जो अर्पण करदे
समर्पण वरदान पा लिया
जन्मो जन्म से तरसी थी
अँखिया तूने दर्शन दिया

जयकार तेरी जो गाता
और परिक्रमा है लगाता
जयकार तेरी जो गाता
और परिक्रमा है लगाता

मिले तभी पुण्य हुए सभी धन्य आकर
तेरी शरणो में

जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में
जय जगन्नाथ हमें रहना आपके चरणो में

Jai Jagannath Lyrics

Shubh shubh din aaya shubh ghadi
Shubh shubh din aaya shubh ghadi
Jai jagannath se goonja aasma

Use charo dhaam ka punya mila
Use charo dhaam ka punya mila
Jo kar le purn teri parikrama

Mann mein mirdang baje
Vaikunth mein sankh baje
Mandir hai jhoom raha
Ambar se khushiyaan barsi

Mila tabhi punya hue sabhi dhanya
Aakar teri sharno mein

Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein

Parikrama path par jo bhi chala
Dwaar khula har dwaar khula
Jagannath jee ki jispe kripa
Kaal bhi kya kar lega bhala

Parikrama path par jo bhi chala
Dwaar khula har dwaar khula
Jagannath jee ki jispe kripa
Kaal bhi kya kar lega bhala

Baansuri bhi sang baje
Baikunth mein sankh baje
Mandir hai jhoom raha
Ambar se khushiyaan barasi

Na aadi ant jeevan ananat paye
Sab sharno mein

Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein

Hey nath mere jagat ke swami
Aaye hain tere dware
Bhagya uday ho jug mein jay ho
Naam jo tera pukare

Khudko jo arpan karde
Samarpan vardan pa liya
Janmo janam se tarsi thi
Ankhiya tune darshan diya

Jaikaar teri jo gaata
Aur parikrama hai lagata
Jaikaar teri jo gaata
Aur parikrama hai lagata

Mile tabhi punya hue sabhi dhanya aakar
Teri sharno mein

Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein
Jai jagannath hume rahna aapke charno mein

Jai Jagannath Lyrics PDF Download
Print Print PDF     Pdf PDF Download

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *